चरणं शरणम गच्छामी

About P3Y


P3Y is a complete system. Protect is to procure all.
Eat Sugar. Experience the sweetness.
It cannot be discussed.
Do P3Y; experience the happiness.
Resulting from P3Y
In learning & Teaching P3Y,
Use (i) Mouth (ii) Ear & (iii) Mind

Eleven lines of Papr through which DESIRES are fullfilled [Speak exactly what is written from line1 to line8, in line 9,10,11 you can use your mother tongue.]

१. परमं शरणं गच्छामि
२. हंसं शरणं गच्छामि
३. अद्वैतं शरणं गच्छामि
४. आनंदम शरणं गच्छामि
५. चरणं शरणं गच्छामि
६. हे परमजी
७. मुझ पर कृपा करो
८. सिर झुकाकर परमजी को नमस्कार करता हूँ / करती हूँ.
९. अपनी कोई एक इच्छा मन में बोले.
१०. इच्छा पूर्ण होते ही पकर मैं एक रुपया / सौ रुपया परम जी को दूंगा / दूंगी [ राशि इच्छा के अनुरूप देना है ]
११. इच्छा पूर्ण होते ही पकर मैं एक नए व्यक्ति / दस नए व्यक्ति को किसी भी माध्यम से P3Y सिखाऊंगा / सिखाउंगी [ प्रचार की संख्या इच्छा के अनुसार ]

नोट - पंक्ति १० एवं ११ में दिए गए राशि अथवा प्रचार कार्य पूर्ण होने के बाद ही करना.